Wednesday, 13 March 2019

best love status in hindi

best love status in Hindi read full love status and comment me how do you love. if you love someone then come on my website .you will get best love status.if you love to study adult poems in English then click


*********


कौन कहता है हम उसके बिना मर जायेंगे 
हम तो दरिया है समंदर में उतर जायेंगे 
वो तरस जायेंगे प्यार की एक बून्द के लिए 
हम तो बादल है प्यार के किसी और पर बरस जायेंगे//
***
लोग कहते है हर दर्द की एक हद होती है
मोहब्बत की हद्द है सितारों से आगे;
प्यार का जहाँ है बहारों से आगे;
वो दीवानों की कश्ती जब बहने लगी;
तो बहते बह गई किनारों से आगे//
***
लोग कहते हैं,जो दर्द देता है, वही दवा देता है,
पता नहीं,फ़िज़ूल की बातों को,कौन हवा देता है//
****
जिनके दिल अच्छे होते है न
उनकी किस्मत ख़राब होती है
जिनसे मिलना किस्मत में न हो,
उन से मोहब्बत कमाल की होती है//


****
टूट कर चाहने वालो के दिल क्यों टूटते हैं ....
इश्क की राहों में ही ज्यादा कांटे क्यों मिलते हैं !
जिनके दिल मिलते हैं .....
उनके तकदीर क्यों नही मिलते हैं !!
राहों में सिर्फ पत्थर ही क्यों मिलते हैं ....

उन्हें बहाने के लिए सिर्फ आंसू मिलते हैं ....
प्यार के फूल तो उनके लिए बागों में भी नही खिलते हैं !!!!
एक पल की ख़ुशी के लिए तड़प जाते वो हैं !!!//
****
चुभता तो बहुत कुछ मुझको भी है तीर की तरह...!!!
मगर ख़ामोश रहता हूँ, अपनी तक़दीर की तरह...!//
*******
क्या गजब की तकदीर पायी है
उस इंसान ने
जिसने तुझसे मोहोब्बत भी नही की 
और तुझे पा लिया ..//


*****
क्या पानी पे लिखी थी मेरी तकदीर मेरे मालिक,
हर ख्वाब बह जाता है, मेरे रंग भरने से पहले ही...//
****
प्यार तो तकदीर में लिखा होता है…
किसी के लिए तड़पने से कोई अपना नहीं होता है,,,//
******
पैसा कमाने के लिए इतना वक़्त खर्च ना करो की 
पैसा खर्च करने के लिए ज़िन्दगी में वक़्त ही न मिले //
*******
चाँद का क्या कसूर अगर रात बेवफा निकली,
कुछ पल ठहरी और फिर चल निकली,
उन से क्या कहे वो तो सच्चे थे,
शायद हमारी तकदीर ही हमसे खफा निकली।//
******
तक़दीर लिखने वाले एक एहसान करदे,
मेरे दोस्त की तक़दीर मैं एक और मुस्कान लिख दे,
न मिले कभी दर्द उनको,
तू चाहे तो उसकी किस्मत मैं मेरी जान लिख दे//
******
जरुरी तो नहीं जीने के लिए सहारा हो,
जरुरी तो नहीं हम जिसके हैं वो हमारा हो,
कुछ कश्तियाँ डूब भी जाया करती है,
जरुरी तो नहीं हर कश्ती का किनारा हो।//
*****
कोई तो इन्तहा होगी मेरे प्यार की खुदा,
कब तक देगा तू इस कदर हमें सजा,
निकाल ले तू इस जिस्म से जान मेरी,
या मिला दे मुझ को मेरी दिलरुबा।//
*****
वो सिलसिले वो शौक वो ग़ुरबत न रही,
फिर यूँ हुआ के दर्द में सिद्दत न रही,
अपनी जिंदगी में हो गये मशरूफ वो इतना,
कि हमको याद करने कि फुरसत न रही।//
*******


जिंदगी के ज़हर को यूँ हँस के पी रहे हैं,

तेरे प्यार बिना यूँ ही ज़िन्दगी जी रहे हैं,
अकेलेपन से तो अब डर नहीं लगता हमें,
तेरे जाने के बाद यूँ ही तन्हा जी रहे हैं।//
******

No comments:

Post a Comment